जींद, 25 सितम्बर: जींद की ऐतिहासिक धरती पर आज पूर्व उपप्रधानमंत्री स्व. चौधरी देवीलाल की 108वीं जयंती पर आयोजित सम्मान दिवस समारोह रैली ने एक बार फिर ताऊ देवीलाल के जमाने की याद ताजा कर दी। इस रैली में उमड़ी भीड़ से गदगद पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश ङ्क्षसह बादल, जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला और जनता दल यूनाइटेड के महासचिव के.सी. त्यागी ने तीसरे मोर्चे की कवायद के अंजाम तक पहुंचाने की अपील इनैलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला से की।

इस रैली में भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र ङ्क्षसह भी शामिल हुए। मंच संचालन पूर्व विधायक एवं इनैलो के प्रधान महासचिव अभय ङ्क्षसह चौटाला ने किया। रैली में उमड़ी भीड़ से गदगद इनैलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला ने अपना संबोधन संघर्ष, संगठन व सत्ता पर फोकस करते हुए कहा कि यदि इनैलो का संगठन पहले की तरह लगातार मजबूत होता रहा और हम स्व. चौधरी देवीलाल के दिखाए संघर्ष के रास्ते पर चलते रहे तो शीघ्र ही हरियाणा में हमारी सत्ता होगी।
चौटाला ने कहा कि एक साजिश और षडय़ंत्र के तहत उन्हें कांग्रेस ने बेरोजगार युवकों को रोजगार देने की एवज में दस वर्ष के लिए जेल में भेज दिया और फिर दुष्प्रचार किया कि ओमप्रकाश चौटाला तो जेल में ही मर जाएंगे और पार्टी खत्म हो जाएगी। मगर मेरे जेल में जाने के दौरान मेरी अनुपस्थिति में हमारी पार्टी का संगठन और अधिक मजबूत हुआ है और आज की रैली में उमड़ी भीड़ बता रही कि आने वाली सरकार हरियाणा में निश्चित तौर पर इनैलो की ही होगी। चौटाला ने भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि आज प्रदेश व देश की जनता भाजपा के इस कुशासन से पूरी तरह से तंग आ चुकी है और अब इस निर्दयी सरकार को सत्ता से बेदखल करने के लिए प्रदेश के लोगों को तीन साल का इंतजार नहीं करना पड़ेगा, क्योंकि जैसे ही ऐलनाबाद का उपचुनाव हुआ और उसमें भाजपा व कांग्रेस दोनों ही पार्टियों के उम्मीदवारों की जमानत जब्त होने के साथ ही भाजपा की सरकार गिर जाएगी और प्रदेश में मध्यावधि चुनाव होंगे।

ओमप्रकाश चौटाला ने कहा कि जात नहीं जमात बड़ी होती है और उन्हें इस बात की प्रसन्नता है कि हमारी पार्टी का संगठन इस कद्र मजबूत है कि किसानों के साथ-साथ हर वर्ग के लोगों के साथ मजबूती से खड़ा नजर आता है। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि प्रदेश में फिर से इनैलो की सरकार बनते ही बिना जातीय भेदभाव के प्रत्येक योग्य युवक को रोजगार दिया जाएगा।

रैली में पहुंचे पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश ङ्क्षसह बादल ने अपने भाषण में चौधरी देवीलाल के साथ जुड़े अपने संस्मरण सांझे करते हुए कहा कि देवीलाल में सबसे बड़ी बात कुर्बानी का जज्बा था। इमरजैंसी में जब इंदिरा गांधी ने पूरे देश को जेलखाना बना दिया तब विपक्ष के सभी नेताओं को जेल में डाल दिया। जेल से ही जनता दल का गठन हुआ और फिर जनता दल की सरकार भी बनी। इस बात का उदाहरण देते हुए बादल ने कहा कि आज फिर ऐसे ही प्रयास की जरूरत है। सभी क्षेत्रीय दलों को इक_ा होना होगा। उन्होंने कहा कि इस उम्र में वे तो इस प्रयास की हिम्मत नहीं कर सकते हैं मगर, चौटाला साहब इस काम को अंजाम तक पहुंचा सकते हैं। उन्होंने मंच पर बैठे फारुख अब्दुला से जुड़े एक पुराने किस्से को याद करते हुए कहा कि उनकी बेटी की शादी थी और वे जेल में थे। उस समय फारुख अब्दुला और उनके पिता शेख अब्दुला ने सभी तरह की रस्मों को पूरा करवाया।
रैली में पहुंचे भाजपा नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र ङ्क्षसह ने कहा कि ओमप्रकाश चौटाला ने पहली बार उन्हें चौधरी देवीलाल की जयंती पर होने वाली रैली के लिए न्यौता दिया और वे देवीलाल को अपना आदर्श मानते हैं इसलिए आज रैली में शामिल हुआ हूं। उन्होंने कहा कि 1977 में वे पहली बार विधायक बने थे और उस समय कांग्रेस में होते हुए भी चौधरी देवीलाल ने मुझे पूरा सम्मान दिया था। इसलिए उनके सम्मान समारोह में आना मेरे लिए सम्मान की बात है। उन्होंने कहा कि चौधरी देवीलाल ऐसे व्यक्तित्व थे जो आम लोगों का सम्मान ही नहीं बल्कि समय आने पर त्याग भी करते थे, जिसका उदाहरण उन्होंने वी.पी. ङ्क्षसह को प्रधानमंत्री बनाकर दिया था। बीरेंद्र ङ्क्षसह ने किसान आंदोलन को लेकर कहा कि हर आंदोलन में कोई न कोई ऐसा नेता आया है जिसने आंदोलन को अंजाम तक पहुंचाया और आंदोलन को कामयाब बनाया। किसान आंदोलन भी निश्चित रूप से सफल होगा।
रैली में पहुंचे जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला ने कहा कि आंदोलन पत्थरों और लकडिय़ों से नहीं लड़े जाते। इसके लिए गांधीगिरी जरूरी है। उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी का जिक्र करते हुए कहा कि वाजपेयी ने दिलों को जोडऩे का काम किया। आज फिर से ऐसे प्रयास होने चाहिएं और ऐसे प्रयासों को अंजाम तक ओमप्रकाश चौटाला पहुंचा सकते हैं। भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर राम को लेकर राजनीति करने पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि भगवान राम जी अकेले भाजपा या आर.एस.एस. के नहीं बल्कि समूचे विश्व के राम जी हैं।

इनैलो के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव अभय ङ्क्षसह चौटाला ने पिछले दो दिनों से इस रैली को लेकर जहां जींद में ही डेरा डाला हुआ है, उन्होंने आज अपने संबोधन में भाजपा व कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला। अभय चौटाला ने कहा कि हम कांग्रेस को अगले चुनाव में सुपड़ा साफ करेंगे ही, वहीं भाजपा को भी पूरी तरह से बेनकाब करते हुए इन्हें सत्ता से बाहर करेंगे। उन्होंने कहा कि तीनों कानून हर हाल में रद्द होंगे। प्रदेश में पिछले दिनों हुई बारिश से खराब हुई फसलों का जिक्र करते हुए अभय चौटाला ने कहा कि किसानों की बाजरा, नरमा आदि की फसल नष्ट हो गई है। इसके लिए सरकार को जल्द गिरदावरी करके 15 दिनों के भीतर किसानों को 50 हजार रुपए प्रति एकड़ मुआवजा देना चाहिए। उन्होंने कहा कि 25 सितम्बर को किसान मोर्चा ने भारत बंद का आह्वान किया था। ऐसे में चौधरी देवीलाल का सम्मान दिवस उसी दिन होने का हवाला देते हुए जब इस भारत बंद को स्थगित करने संबंधी आग्रह इनैलो ने किसान मोर्चा से किया तो उन्होंने इस आग्रह को स्वीकार कर लिया। अब 27 सितम्बर को भारत बंद है और इनैलो इस प्रस्तावित भारत बंद का समर्थन करेगी।