केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल 25 सितंबर को पीएमजीकेए योजना के लाभार्थियों के साथ करेंगे वर्चुअल संवाद
एलईडी के माध्यम से लाईव प्रसारित होगा संवाद कार्यक्रम
ऊना, 21 सितंबर: प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के लाभार्थियो के साथ प्रस्तावित कार्यक्रम की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में आज एक बैठक हुई जिसमें सभी जिलों के उपायुक्त वीडियो कांफ्रैंसिंग के माध्यम से जुड़े। उपायुक्त ऊना राघव शर्मा भी इस वर्चुअल बैठक में शामिल हुए।
बैठक के बाद उपायुक्त राघव शर्मा ने कहा कि केन्द्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री पीयूष गोयल 25 सितंबर को पीएमजीकेए योजना के तहत लाभार्थियों के साथ वर्चुअल संवाद करेंगे। उन्होंने कहा कि इस दिन 25 लाभार्थियों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत राशन के बैग भी वितरित किए जाएंगे तथा एलईडी के माध्यम से कार्यक्रम का लाईव प्रसारण दिखाया जाएगा।
डीसी ने बताया कि ऊना जिला के पांच विधानसभा क्षेत्रों के तहत बचत भवन ऊना, अंबेदकर भवन अंब, लघु सचिवालय हरोली, काॅपरेटिव सोसायटी हटली के सभागार और छिन्नमस्तिका धाम मंदिर हरवाल गोंदपुर बनेहड़ा लोअर में एलईडी स्थापित की जाएंगी। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम के माध्यम से ऊना जिला की 203 पंचायतों और 253 उचित मूल्य की दुकानों को जोड़ा जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रत्येक उचित मूल्य की दुकान पर 25-25 लोगों को इस कार्यक्रम के साथ जोड़ा जाएगा।
बैठक के दौरान सहायक आयुक्त गौरव चैधरी, डीएफएससी राजीव शर्मा, जिला पंचायत अधिकारी सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।
================================
किसान, व्यापारी व उद्योग एक दूसरे के पूरक: बलवीर बग्गा
ऊना 21 सितंबर: किसान, व्यापारी व उद्योग एक दूसरे के पूरक हैं तथा आपस में बेहतर समन्वय स्थापित करके कार्य करें ताकि सभी पूरकों का कल्याण हो। यह बात अध्यक्ष कृषि उपज मण्डी समिति बलवीर सिंह बग्गा की ने आज यहां कृषि उपनिदेशक सभागार में कृषक, व्यापारी व उद्योग बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही। बैठक में ऊना जिला के 60 किसानों व व्यापारियों के अलावा मक्की के उत्पाद तैयार करने वाले सुखजीत इन्डस्ट्रीज टाहलीवाल के एजीएम ने भी भाग लिया। बैठक में मक्की उपज व इसके विपणन से सम्बन्धित विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की गई ताकि आने वाली मक्की की फसल के किसानों को उचित दाम मिल सकें।
बैठक में किसानों ने मक्की को सुखाने की समस्या रखी। जिसपर बलवीर सिंह बग्गा ने कहा कि इस सम्बन्ध में शीघ्र ही कृषि मंत्री वीरेन्द्र कंवर से बात की जाएगी तथा किसानों को अनुदान पर बड़ी तिरपाल उपलब्ध करवाने का पूरा प्रयास किया जाएगा ताकि किसानों को मक्की की फसल के अच्छे दाम प्राप्त हो सकें। उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने 2022 तक किसानों की आय दुगुना करने का लक्ष्य रखा है। अतः व्यापारी वर्ग किसानों की लागत और मक्की उगाने पर की गई मेहनत को ध्यान में रखते हुए अधिकतम मूल्य तय करें।
सुखजीत इंडस्ट्रीज के एजीएम दलजीत सिंह ने कहा कि इंडस्ट्री में सालाना लगभग एक लाख टन मक्की की खपत होती है जिसे वे हिमाचल के किसानों से खरीदेंगे। जिला कृषि अधिकारी संतोष ने किसानों को मक्की की फसल में लगने वाले रोगों तथा इनके निवारण के लिए उपयुक्त कीटनाशकों बारे जानकारी दी। जबकि कृषि उपज मण्डी समिति के सचिव भूपेन्द्र सिंह ठाकुर ने भी जिला में मक्की की पैदावार में आने वाली समस्याओं व उनके निदान बारे चर्चा की।
============================
-आईटीआई ऊना महिला जागरुकता शिविर हुआ आयोजित
ऊना, 21 सितंबर - औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान, ऊना में आज महिला जागरुकता शिविर का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता एडवोकट मीनाक्षी राणा ने की। इस बारे जानकारी देते हुए आईटीआई के प्रधानाचार्य इंजीनियर बीएस ढिल्लों ने बताया कि महिलाओं में होने वाली स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं और उनके कानूनी अधिकारों बारे विस्तार से जानकारी प्रदान की गई।
इस अवसर पर जिला परिषद अध्यक्षा नीलम कुमारी, नगर परिषद ऊना की अध्यक्षा पुष्पा देवी, मोनिका सिंह, डाॅ रमना कुमारी सहित संस्थान की छात्राएं उपस्थित रहे।
-========================
सेवा सप्ताह कार्यक्रम में बुज़ुर्गों ने किया पौधरोपण
90 वर्ष से अधिक आयु के वयोवृद्ध किये सम्मानित
ऊना 21 सितंबर: आजादी का अमृत महोत्सव के तहत मनाये जा रहे सेवा सप्ताह के चौथे दिन आज अंब तहसील के कलरूही व लडोली ग्राम पंचायतों में कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। यह जानकारी देते हुए तहसील कल्याण अधिकारी अम्ब ने बताया कि वरिष्ठ नागरिकों पर केन्द्रित इस कार्यक्रम में बुज़ुर्गों द्वारा पौधरोपण किया गया। जिसमें कलरूही के 103 साल के वयोवृद्ध सोहन लाल 100 वर्ष की आयु के रत्न चन्द, 84 साल के गुरबचन सिंह व 82 साल के नारायण सिंह तथा लडोली के 96 साल के वयोवृद्ध फीना राम सहित 27 बुजुर्गों ने पौधरोपण किया। इस अवसर पर 90 वर्ष की आयु पार कर चुके वृद्धों को प्रशासन की ओर से सम्मानित भी किया गया।
==============================
दो दिवसीय वुशु खेल प्रशिक्षण शिविर संपन्न
ऊना 21 सितंबर: वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल बहडाला में चल रहे दो दिवसीय दो दिवसीय वुशु खेल प्रशिक्षण शिविर का आज समापन हो गया। इस अवसर पर जिला के वुशु खिलाड़ियों ने खेल की बारीकियों बारे विशेष प्रशिक्षकों के सानिध्य में गुर सीखे। इसके अतिरिक्त खिलाड़ियों को खेल में अंक हासिल करने की कलाओं बारे भी प्रशिक्षित किया गया।
इस अवसर पर जिला वुशु खेल संघ के अध्यक्षत यशपाल रायजादा ने बताया कि जिला में इस खेल को प्रोमोट करने के लिए संघ बुधवार से यहां विभिन्न वर्गाें की खेल प्रतियोगिता का आयोजन करने जा रहा है। जिसमें खिलाड़ियों को उनके भार के मुताबिक खेल की श्रेणियों में चयनित करके स्पर्धाएं करवाई जाएंगीं। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता के समापन समारोह मंे छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती मुख्यातिथि होंगे।
================================
आज 57 केन्द्रों पर होगा कोविड टीकाकरण
ऊना, 21 सितंबर - मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ रमन कुमार शर्मा ने बताया बुधवार 22 सितंबर को ज़िला ऊना में 57 वैक्सीनेशन टीका केन्द्रों पर कोविड 19 वैक्सीनेशन का टीकाकरण होगा।
उन्होंने बताया कि इनमें राधा स्वामी सत्संग घर गगरेट, सीएचसी दौलतपुर चैक, पीएचसी मरवाड़ी, पीएचसी बढ़ेड़ा राजपूतां, जीएसएसएस भंजाल, जीपी सलोहबेरी, जीपी डंगोह, एचएससी घनारी, एचएससी मावां सिंधियां, एचएससी लोहारली, एचएससी नकड़ोह, ल्यूमिनस युनिट-3, सीएचसी बसदेहड़ा, सीएचसी संतोषगढ़, पीएचसी देहलां, एचएससी सनोली, एचएससी रामपुर, एचएससी रैन्सरी, एचएससी कोटला खुर्द, एचएससी लमलैहड़ी, एचएससी बसोली, एचएससी नंगल सलांगड़ी, एचएससी बड़साला, एचएससी बहडाला, एचएससी झूड़ोवाल, राधा स्वामी सत्संग घर ऊना, राधा स्वामी सत्संग घर ललड़ी, सीएचसी बीटन, सीएचसी दुलहैड़, सीएचसी भदसाली, जीडीसी हरोली, पीएचसी पंजावर, पीएचसी बढेड़ा, पीएचसी कुठारबीत, पीएचसी पालकवाह, पीएचसी खड्ड, जीपीएस नंगलकलां, नयासा इंडस्ट्री, एचएससी छेत्रां, एचएससी कांगड़, सीएच बंगाणा, पीएचसी सोहारी टकोली, पीएचसी चमियाड़ी, राधा स्वामी सत्संग घर अंब, सीएच चिंतपूर्णी, सीएचसी धुसाड़ा, पीएचसी अरकोट, पीएचसी चुरूड़ू, पीएचसी धर्मशाल महंतां, पीएचसी चकसराय, पीएचसी शिवपुर, नानक दरबार मैड़ी, पंचायत घर बेहड़ जसवां, एचएससी टकारला, एचएससी चाहबाग, एचएससी अंदौरा व एचएससी बधमाणा शामिल हैं।