सोलन दिनांक 05.03.2021-आयुष विभाग द्वारा सोलन जिला के धर्मपुर विकास खण्ड में एनीमिया जागरूकता शिविरों की कड़ी में आज ग्राम पंचायत धर्मपुर, कोटबेजा तथा बारियां में 389 व्यक्तियों की जांच की गई। यह जानकारी जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने दी।
उन्होंने कहा कि इन ग्राम पंचायतों ग्राम पंचायत धर्मपुर में 191, ग्राम पंचायत कोटबेजा में 120 तथा ग्राम पंचायत बारियां में 78 व्यक्तियों की स्वास्थ्य जांच की गई।
उन्होंने कहा कि गत दिवस ग्राम पंचायत सनवारा, भावगुड़ी तथा टकसाल में 537 व्यक्तियों की एनीमिया जांच की गई। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत सनवारा में 154, ग्राम पंचायत भावगुड़ी में 104, ग्राम पंचायत छाड़वा में 144 तथा ग्राम पंचायत टकसाल में 135 व्यक्तियों की जांच की गई।
उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य जांच में जिन रोगियों का हीमोग्लोबिन स्तर बहुत कम पाया गया उन्हें पूरी जांच के लिए परामर्श दिया गया।
डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि इन शिविरों में लोगों को बताया गया कि एनीमिया रोग का पूर्ण निदान सम्भव है तथा उचित पोषाहार के माध्यम से सदैव एनीमिया से बचा जा सकता है। शरीर में रक्त की कमी के कारण एनीमिया होता है। एनीमिया के कारणों में सबसे प्रमुख कारण शरीर में आयरन की कमी है। जब आपके आहार में लौह तत्व पर्याप्त मात्रा में नहीं होता है, तब व्यक्ति एनीमिया पीड़ित हो जाता है। इसके अलावा अगर किसी भी कारण से शरीर में रक्त की कमी हो जाती है तो भी यह समस्या उत्पन्न होती है। चोट लगने पर खून निकलना, माहवारी या प्रसव में अधिक मात्रा में खून का बहना भी एनीमिया का एक कारण है।
शिविर में लोगों से आग्रह किया गया कि अपने भोजन में नियमित आधार पर फल एवं सब्जियां लें।
इस अवसर पर रोगियों को एनीमिया की निःशुल्क दवाएं भी वितरित की गईं।
आज आयोजित शिविरों में आयुर्वेदिक चिकित्सक डाॅ. मंजेश शर्मा, डाॅ. प्रियंका, डाॅ. सोनिया धीमान, डाॅ. प्रियंका किमटा, डाॅ. कामिनी, आयुर्वेद विभाग के कर्मचारी वर्धा ठाकरु, दिनेश, शंकर, सोनू, बबली, आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तथा स्थानीय निवासी उपस्थित रहे।

.