इंदिरा गांधी खेल मैदान ऊना में सेना भर्ती रैली 17 मार्च से 6 अप्रैल, तक की जाएगी आयोजित

बिलासपुर 3 मार्च - भर्ती निदेशक सेना भर्ती कार्यालय, हमीरपुर कर्नल संजीव कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि इंदिरा गांधी खेल मैदान, ऊना में सेना भर्ती रैली 17 मार्च से 6 अप्रैल, 2021 तक आयोजित की जाएगी। उन्होंने बताया कि जिला हमीरपुर, बिलासपुर और ऊना के पुरूष उम्मीदवारों के लिए सोल्जर जनरल ड्यूटि और सोल्जर क्लर्क/एस.के.टि. के आॅनलाईन पंजीकरण 13 फरवरी तक किए जा चुके है। जिन उम्मीदवारों ने www.joinindianarmy.nic.in वेबसाइट पर 13 फरवरी तक निर्धारित श्रेणियों के लिए पंजीकरण/आवेदन किया है, उन उम्मीदवारों को एडमिट कार्ड जारी किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि सभी हिमाचल प्रदेश, यू.टी. चण्डीगढ़ और हरियाणा (जिला गुड़गांव, मेवात, पलवल और फरीदाबाद को छोड़कर) के पुरूष उम्मीदवारों के लिए जुनियर कमीशन अधिकारी (धार्मिक शिक्षक/जे.सी.ओ.आर.टी) के लिए आॅनलाइन पंजीकरण 9 फरवरी तक किया जा चुका है। जिन उम्मीदवारों ने www.joinindianarmy.nic.in वेबसाइट पर 9 फरवरी तक निर्धारित श्रेणि के लिए पंजीकरण/आवेदन किया है, उन उम्मीदवारों को एडमिट कार्ड जारी किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश, यू.टी. चण्डीगढ़ और हरियाणा (जिला गुड़गांव, मेवात, पलवल और फरीदाबाद को छोड़कर) के पुरूष उम्मीदवारों के लिए सिपाही फार्मा 2 मार्च तक www.joinindianarmy.nic.in वेबसाइट पर 2 मार्च तक पंजीकरण किया जा चुका है, उन

उम्मीदवारों को एडमिट कार्ड जारी किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि शिमला, सोलन, किन्नौर, सिरमौर के उम्मीदवारों की भर्ती 28 मार्च से शुरू हो जाएगी।

उन्होंने बताया कि रैली के लिए एडमिट कार्ड सभी श्रेणियों के लिए आॅनलाइन पंजीकरण में दिए गए उम्मीदवारों के ई-मेल के माध्यम से 5 मार्च को भेजे जाएंगे तथा उम्मीदवारों को दी गई तिथि और समय पर कार्यक्रम स्थल पर पहंुचना होगा।
उन्होंने बताया कि उम्मीदवारों को रैली में भाग लेने/प्रवेश के लिए www.joinindianarmy.nic.in में दी गई रैली अधिसूचना में उल्लिखित सभी अनिवार्य मूल दस्तावेजों को लाना होगा तथा मूल दस्तावेजो के अलावा दो अतिरिक्त फोटोकाॅपी लाना भी आवश्यक होगा। उन्होंने बताया कि किसी भी उम्मीदवार को उल्लिेखित दस्तावेज में कोई भी छूट नहीं दी जाएगी।
उन्होंने बताया कि किसी भी उम्मीदवार ने यदि राज्य मुक्त विद्यालय/एनआईओएस से मैट्रिक कक्षा उत्र्तीण की है, तो उन्हें अपने विद्यालय छोड़ने का प्रमाण पत्र/अंतिम प्रमाण पत्र (टी.सी.) अंतिम विद्यालय से लाना होगा, जो विद्यालय के प्रधानाचार्य द्वारा विधिवत हस्ताक्षरित होना चाहिए और बी.ई.ओ/डी.ई.ओ/डिप्टी डायरेक्टर शिक्षा द्वारा प्रतिरूपित होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि कोई भी उम्मीदवार सोशल मीडिया जैसे कि व्हाट्स ऐप अनाधिकृत सूत्रों से ईमेल आदि के माध्यम से प्रसारित नकली समाचारों को बढ़ावा या पालन न करें।

उन्होंने उम्मीदवारों को दलालों/धोखाधड़ी वाले व्यक्तियों से बचने और दवाओं के उपयोग से बेचने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि सेना में भर्ती एक फ्री सेवा है, सेना भर्ती की प्रक्रिया कम्प्यूटर द्वारा की जाती है और यह पारदर्शी है। उन्होंने कहा कि जाली(नकली) सर्टिफिकेट्स/दस्तावेज जमा करना एक अपराध है जिसके लिए अपराधी को सेना में से कभी भी निकला जा सकता है।
उन्होंने कहा कि उम्मीदवार अपने साथ पैक्ड ब्रेकफास्ट, लंच और पीने का पानी ला सकते है परंतु मोबाइल फोन लाना वर्जित है।

===================================

न्यू डोेगरा आई0टी0आई चांदपूर विश्व श्रवण दिवस आयोजित किया गया

बिलासपुर 3 मार्च - न्यू डोेगरा आई0टी0आई चांदपूर में जन शिक्षा एवं सूचना अधिकारी पूर्ण चन्द की अध्यक्षता में विश्व श्रवण दिवस आयोजित किया गया।
उन्होंने बताया कि यह दिवस 3 मार्च को हर वर्ष विश्व श्रवण दिवस मनाया जाता है जिसमें कानों में कम सुनाई देने, बहरेपन आदि समस्यों से बचने के लिए लोगों को जागरुक किया जाता है।
इस अवसर पर उन्होंने बताया कि बहरापन कि इस वर्ष का थीम ‘हिअरिंग केयर आफ आल-जांच, पुनर्वास, संवाद’ है। उन्होंने बताया कि पूरी आबादी में 5 प्रतिशत लोग श्रवण की समस्या से जूझ रहे हैं अगर समय रहतें इलाज कर लिया जाए तो इससे बचा जा सकता है।
उन्होंने बताया कि बहरेपन अथवा सुनाई न देने के कई कारण हो सकते है। किसी प्रकार की क्षति, छूत, पूर्ण या अपूर्ण अवरोध यदि कान के छेद में हो जाए तो ध्वनि का सुनना कम हो जाता है या सूनना बिल्कुल बंद हो सकता है। नाक और कान में होने वाले बच्चों का आम संक्रमण बहरा बना सकता है। ज्यादातर बच्चों को ओटाईटिस मीडिया की शिकायत हो जाती है जिसके लक्षण हैं बुखार, कान से पीक का बहना, बच्चा हर समय रोता है और कान की बगल मे सिर रगडता है। इस बीमारी का समय पर इलाज न हो तो बहरापन आ सकता है।
उन्होंने बताया कि लम्बे समय तक हम शोर या तेज ध्वनि के सम्पर्क में रहते है तो श्रवण रोग हो सकता है। जो लोग एयरपोर्ट, फैकटरी या फार्म, मकैनिक, ट्रक ड्राइवर, मिलट्री मे काम करने वालेे इस समस्या से जूझ सकते है। इसके इलावा स्ट्रैपटामाइसिन, एस्पिरिन, आईव्यूप्रोफेन व कुछ एंटीवायोटिक्स दवाइयों से भी बहरापन हो सकता है, डाॅ0 की सलाह के बगैर कोई भी दवा न लें। कान में कोई फौरन बाडी के जाने से भी समस्या आ सकती है।
उन्होंने लोगों से कहा कि यदि उपरोक्त सम्बन्धि कोई समस्या हो तो डाॅक्टर के पास जाएं और पूर्ण निदान पाएं।
इस कार्यक्रम में स्थानीय प्रधानाचार्य और स्वास्थ्य शिक्षक प्रवीण शार्मा ने अपने विचार प्रस्तुत किए।

==============================

बिलासपुर 3 मार्च - जिला स्तरीय ग्रीष्मोत्सव घुमारवीं के आयोजन के लिए बैठक 5 मार्च को प्रातः 11 बजे नगर परिषद घुमारवीं के रैन बसेरा भवन में निर्धारित की गई है। अध्यक्ष जिला स्तरीय ग्रीष्मोत्सव समिति एवं उपमण्डाधिकारी (ना0) घुमारवीं शशिपाल शर्मा ने बताया कि इस बैठक में जिला स्तरीय ग्रीष्मोत्सव घुमारवीं की रूपरेखा पर चर्चा की जाएगी।
इस बैठक में समस्त कार्यालयाध्यक्ष घुमारवीं उप मण्डल, अध्यक्ष एवं समस्त पार्षद नगर परिषद घुमारवीं, अध्यक्ष एवं समस्त व्यापार मण्डल कार्याकारणी, प्रधान निजी बस आप्रेटरज यूनियन तथा समस्त सदस्य जिला स्तरीय ग्रीष्मोत्सव समिति घुमारवीं उपस्थित रहेंगे।

=====================================

4 मार्च को 70 लाख रुपये की लागत की निर्मित हो रही मंदरीघाट-कुहघाट वाया धार-लुसाण सड़क का भूमिपूजन दोपहर 1 बजे करेंगे।

बिलासपुर 3 मार्च - सरकारी प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि विधायक सदर सुभाष ठाकुर 4 मार्च को 70 लाख रुपये की लागत की निर्मित हो रही मंदरीघाट-कुहघाट वाया धार-लुसाण सड़क का भूमिपूजन दोपहर 1 बजे करेंगे। इसके उपरांत विधायक राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला गवालमुठानी में 10 लाख रुपये की लागत से निर्मित खेल स्टेडियम का उद्घाटन दोपहर 1ः15 बजे करेंगे।
प्रवक्ता ने बताया कि विधायक पंचायत भवन ननावां का उद्घाटन दोपहर 1ः30 बजे करेंगे। इसके उपरांत विधायक सामुदायिक भवन ननावां का उद्घाटन दोपहर 1ः45 बजे करेंगे।
===================================

बिलासपुर में भाषा अध्यापकों के 17 पदों के साक्षात्कार 9, 10 व 12 मार्च तक - सुदर्शन कुमार
बिलासपुर 3 मार्च - उप निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा सुदर्शन कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि भाषा अध्यापकों के 17 पदों को भरने हेतू साक्षात्कार 9, 10 व 12 मार्च तक उप निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा के कार्यालय में होगें।
उन्होंने बताया कि सामान्य वर्ग के 2003 बैच के उम्मीदवारों के 3 पद, आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग के 2005 बैच के 2 पद, अनुसूचित जाति ( UR ) के 2005 बैच के 1 पद, अनुसूचिजाति ( BPL ) के 2010 बैच के 1 पद, अन्य पिछड़ा वर्ग ( UR ) के 2007 बैच के 2 पद, अनुसूचित जनजाति ( UR ) के 2010 बैच के 1 पद, सामान्य (भूतपूर्व सैनिक के आश्रित) के 2007 बैच के 4 पद, अनुसूचिजाति (भूतपूर्व सैनिक के आश्रित) के 2010 बैच के 2 पद तथा अन्य पिछड़ा वर्ग (के आश्रित भूतपूर्व सैनिक) के 2010 बैच के 1 पद भरे जाएंगे। उन्होंने बताया कि भर्ती प्रक्रिया में बैच के बाहर का कोई भी अभ्यर्थी भाग लेने हेतु योग्य नहीं होगा।
उन्होंने बताया कि जिला बिलासपुर से सम्बन्धित अभ्यर्थियों के लिए काउंसिलिंग 9 मार्च, जिला कुल्लू, हमीरपुर, मण्डी, कांगड़ा, चम्बा के लिए 10 मार्च व जिला ऊना, लाहौल स्पीति, सिरमौर, सोलन, शिमला, किन्नौर के लिए 12 मार्च को प्रातः 10 बजे उप निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा, बिलासपुर कार्यालय में निर्धारित किया गया है।
उन्होंने बताया कि जिन अभ्यर्थियों को बुलावा पत्र नहीं मिला है और वे निर्धारित योग्यता पूर्ण करते हो, निर्धारित शैडयूल के अनुसार चयन प्रक्रिया में भाग लेना सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया कि प्रशासनिक कारणों से पदों की संख्या एवं श्रेणी में बदलाव किया जा सकता है।

===============================

प्रदेश में हो रहे विकास के समर्थन पर विधायक सुभाष ठाकुर ने विधानसभा सत्र में रखा अपना पक्ष
बिलासपुर 3 मार्च - विधायक विधानसभा क्षेत्र सदर सुभाष ठाकुर ने विधानसभा सत्र में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के बारे में बताते हुए कहा कि इस योजना के अंतर्गत 3 लाख 76 हजार परिवारों को गोल्डन कार्ड जारी किए गए है। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत जनवरी, 2021 तक 78 हजार 579 लाभार्थियों को 82 करोड़ 39 लाख रुपये की निःशुल्क चिकित्सा सहायता प्रदान की गई है।
उन्होंने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान मजदूरों की दिक्कतों को देखते हुए सरकार द्वारा इस दौरान मजदूर की सहायता के लिए 2 करोड़ 88 लाख 54 हजार रुपये की राशि व्यय की गई।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के माध्यम से हर साल किसानों के खातों में दो किस्तों में 6 हजार रुपये डाले गए है। हिमाचल प्रदेश में 9 लाख किसान इस योजना से लाभान्वित हुए है और 1170 करोड़ रुपये इस योजना के अंतर्गत प्रदेश किसानों में आवंटित किए गए।
उन्होंने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री का जल जीवन मिशन के तहत विधान सभा क्षेत्र में 11 करोड़ रुपये और 20 करोड़ रुपये की दो योजनाएं बनाने के लिए आभार व्यक्त किया।
उन्होंने कहा कि जिला में एम्स का निर्माण किया जा रहा है जहां इस वर्ष से कक्षाएं आरम्भ हो चुकी है और 50 प्रशिक्षु शिक्षा ग्रहण कर रहे है। इसके अतिरिक्त हाइड्रो इंजिनियरिंग की कक्षाएं भी इस वर्ष जुलाई माह से आरम्भ हो जाएगी।

==============================

बसों की समय सारिणी हो रही अपडेट- क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी

चम्बा, 3 मार्च- क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय चम्बा द्वारा जिला चम्बा के विभिन्न रूटों पर चलने वाली बसों की समय सारिणी को अपडेट कर दिया गया है। क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ओंकार सिंह ने बताया कि चम्बा- कोटी- सुंडला- संघणी- सलूणी- हिमगिरी के अलावा चम्बा- कोटी- भंजराड़ू- सनवाल- बैरागढ़ रूट पर चलने वाली बसों की समय सारिणी भी अपडेट की गई है।

इन रूटों पर चलने वाली किसी भी बस के चम्बा से परिचालन के समय में यदि कोई त्रुटि हो तो बस मालिक 18 मार्च से 20 मार्च तक अवलोकन उपरांत स्टेज कैरिज अनुभाग में लिखित रूप में तथ्यों सहित कार्यालय में प्रविष्टी करवा सकता है।

===============================
कोरोना टीकाकरण के लिए लोग कोविन पोर्टल पर करें पंजीकरण
मंडी, 3 मार्च - मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी डॉ. देवेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि लोग कोविड-19 टीकाकरण करवाने के लिए कोविन पोर्टल Selfregistration.cowin.gov.in पर स्वयं पंजीकरण कर सकते हैं। आरोग्य सेतु ऐप के जरिए भी कोरोना टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन की जा सकती है । इसके अलावा लोग लोकमित्र केंद्र के जरिए भी पंजीकरण करवा सकते हैं।
डॉ. देवेंद्र शर्मा ने कहा कि कोरोना रोधी टीका लगवाने के लिए पंजीकरण करवाना जरूरी है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि पंजीकरण करते समय उसी मोबाइल नम्बर को लिखें, जिसका प्रयोग कर रहे हैं, क्योंकि उस नंबर पर पंजीकरण के लिए ओटीपी आएगा । एक फोन नम्बर पर चार रजिस्ट्रेशन की जा सकती हैं। उन्होंने बताया कि रजिस्ट्रेशन करते समय व्यक्ति को अपनी जरूरी जानकारी जैसे नाम, जन्म वर्ष, कोई पहचान पत्र नम्बर, जिला का नाम, पिन कोड इत्यादि दर्ज करना है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि जिला में पहली मार्च से कोविड-19 टीकाकरण का तीसरा चरण शुरू हुआ है। इसमें 60 साल से अधिक आयु वर्ग के व्यक्तियों तथा 45-59 वर्ष के बीच के ऐसे व्यक्तियों जो किसी गंभीर बीमारी से पीडि़त हैं, का टीकाकरण किया जा रहा है । मंडी जिला में कोविड-19 की 11366 स्वास्थ्य कर्मियों प्रथम तथा 5403 कर्मियों को दूसरी खुराक जबकि 4774 प्रथम श्रेणी कर्मियों को प्रथम खुराक लगा दी गई है । इसके अतिरिक्त 188 वरिष्ठ नागरिकों तथा 45 वर्ष से उपर के 3 लोगों का भी टीकाकरण किया जा चुका है ।
उन्होंने सभी पात्र लोगों से आग्रह किया कि वे प्री रजिस्ट्रेशन करवा कर ही टीकाकरण स्थल पर टीका लगवाने आएं।