सोलन दिनांक 24.02.2021

कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम के तहत गत दिवस 87 व्यक्तियांे का टीकाकरण
कोविड-19 से सुरक्षा के दृष्टिगत कार्यान्वित किए जा रहे टीकाकरण अभियान के अन्तर्गत गत दिवस सोलन जिला के 06 स्थानों पर टीकाकरण किया गया। यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. राजन उप्पल ने आज यहां दी।
डाॅ. राजन उप्पल ने कहा कि गत दिवस 87 लोगों को कोविड-19 से बचाव के लिए टीका लगाया गया।
सोलन में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कुठाड़ में 08, क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में 17, टीबीएस धर्मपुर में 26, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नालागढ़ एमएएच में 21, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नालागढ़ एचसीडब्ल्यू में 07 तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कण्डाघाट में 08 लोगों का कोविड-19 टीकाकरण किया गया।
डाॅ. राजन उप्पल ने कहा कि सभी लाभार्थियों को टीके के सम्बन्ध में पूर्व में मोबाईल पर सूचना प्रेषित की गई थी। उन्होंने कहा कि 28 दिन के उपरांत दूसरा टीकाकरण होगा।
उन्होंने कहा कि आम जन की सुरक्षा एवं टीकाकरण की व्यापकता के दृष्टिगत सभी को इस दिशा में न केवल अफवाहों से बचना होगा अपितु कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए कोई ढिलाई भी नहीं बरतनी होगी। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि सार्वजनिक स्थानों पर नाक से ठोडी तक कवर करते हुए मास्क पहनें, सोशल डिस्टेन्सिग नियम का पालन करें और बार-बार अपने हाथ साबुन से धोएं या एल्कोहल युक्त सेनिटाईजर से साफ करें।

==========================================================

सोलन -दिनांक 24.02.2021
कैंसर रोग के लिए शिविर 28 फरवरी को

क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में 28 फरवरी, 2021 को कैंसर रोग के निदान एवं परीक्षण के लिए शिविर आयोजित किया जाएगा। यह जानकारी क्षेत्रीय अस्पताल सोलन के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. एन.के. गुप्ता ने दी।
डाॅ. गुप्ता ने कहा कि इस शिविर का आयोजन क्षेत्रीय अस्पताल सोलन की केंसर केयर यूनिट की ओपीडी के कमरा नम्बर 222 में किया जाएगा। शिविर के लिए पहले से पंजीकरण करवाना आवश्यक है।
शिविर में देश के प्रख्यात कैंसर रोग विशेषज्ञ डाॅ. दिनेश पेंडारकर उपस्थित रहेंगे।
डाॅ. गुप्ता ने कैंसर के रोगियों से आग्रह किया है कि पंजीकरण करवाकर 28 फरवरी को आयोजित होने वाले इस शिविर का लाभ उठाएं।

=======================================================

सोलन-दिनांक 24.02.2021

जेबीटी अध्यापकांे की बैच आधार पर भर्ती के लिए काउन्सिलिंग 05 तथा 06 मार्च को
सोलन जिला में जेबीटी अध्यापकों के 47 पदों के लिए बैच आधार पर भर्ती की काउन्सिलिंग के लिए 05 तथा 06 मार्च, 2021 की तिथि निर्धारित की गई है। यह जानकारी उपनिदेशक प्रारम्भिक शिक्षा रोशन जसवाल ने दी।
रोशन जसवाल ने कहा कि पूर्व में काउन्सिलिंग के लिए निर्धारित तिथियां न्यायालय के आदेशानुसार रद्द कर दी गई थीं। उन्होंने कहा कि 05 तथा 06 मार्च, 2021 को यह काउन्सिलिंग प्रातः 10.30 बजे से डाईट सोलन में आयोजित की जाएगी।
उन्होंने कहा कि उपरोक्त पदों के लिए भर्ती अनुबन्ध आधार पर की जाएगी। उन्होंने कहा कि विभिन्न रोजगार कार्यालयों से पात्र उम्मीदवारों की सूची प्राप्त हो चुकी है। पात्र अभ्यर्थियों को काउन्सिलिंग के लिए बुलावा पत्र प्रेषित किए जा रहे हैं। काउन्सिलिंग में प्रदेश के किसी भी जिला के उम्मीदवार भाग ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि 15 फरवरी तथा 16 फरवरी, 2021 को काउन्सिलिंग में भाग ले चुके उम्मीदवारों को पुनः काउन्सिलिंग में आने की आवश्यकता नहीं है।
उन्होंने कहा कि इन पदों पर काउन्सिलिंग के लिए सामान्य श्रेणी के लिए वर्ष 2011 के उत्तीर्ण विद्यार्थी, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग तथा स्वतन्त्रता सेनानियों के आश्रितों के लिए वर्ष 2013 के उत्तीर्ण विद्यार्थियों को बुलाया गया है।
उपनिदेशक ने कहा कि उक्त भर्ती के लिए सामान्य श्रेणी के 19 पद, अनुसूचित जाति श्रेणी के 11 पद, अनुसूचित जनजाति श्रेणी का 01 पद, अन्य पिछड़ा वर्ग के 09 पद, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के 06 पद तथा स्वतन्त्रता सेनानियों के आश्रितों का 01 पद है।
रोशन जसवाल ने कहा कि पात्र अभ्यर्थियों को अपने साथ दसवीं व जमा दो या इसके समकक्ष योग्यता प्रमाण पत्र, जेबीटी का प्रमाण पत्र, शिक्षक योग्यता परीक्षा प्रमाण पत्र, हिमाचली प्रमाण पत्र जो अधिकृत सक्षम अधिकारी द्वारा जारी किया गया हो, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग का प्रमाण पत्र जो प्रदेश सरकार द्वारा अधिकृत सक्षम अधिकारी द्वारा जारी किया गया हो, नवीनतम पासपोर्ट आकार का फोटो, रोजगार कार्यालय का पंजीकरण पत्र तथा चरित्र प्रमाण पत्र जो कि प्रदेश सरकार द्वारा अधिकृत सक्षम अधिकारी द्वारा जारी किया गया हो साथ लाना होगा।
इस सम्बन्ध में अधिक जानकारी उपनिदेशक प्रारम्भिक शिक्षा सोलन के कार्यालय से प्राप्त की जा सकती है।

================================

आयुष विभाग द्वारा आज सोलन जिला के धर्मपुर विकास खण्ड की ग्राम पंचायत प्राथा, जगजीतनगर, गोयला तथा टकसाल में लोगों को एनीमिया के बारे में जागरूक करने के लिए शिविर आयोजित किए गए। यह जानकारी जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने दी।

सोलन -दिनांक 24.02.2021-आयुष विभाग द्वारा आज सोलन जिला के धर्मपुर विकास खण्ड की ग्राम पंचायत प्राथा, जगजीतनगर, गोयला तथा टकसाल में लोगों को एनीमिया के बारे में जागरूक करने के लिए शिविर आयोजित किए गए। यह जानकारी जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने दी।

उन्होंने कहा कि इन ग्राम पंचायतों में आयोजित शिविरों में 391 रोगियों की एनीमिया जांच की गई। ग्राम पंचायत प्राथा में 107, ग्राम पंचायत जगजीतनगर में 76, ग्राम पंचायत गोयला में 110 तथा ग्राम पंचायत टकसाल में 98 रोगियों की स्वास्थ्य जांच की गई।
उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य जांच में जिन रोगियों का हीमोग्लोबिन स्तर बहुत कम पाया गया, उन्हें पूरी जांच के लिए परामर्श दिया गया।

डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि शिविर में लोगों को अवगत करवाया गया कि शरीर में रक्त की कमी के कारण एनीमिया होता है। इस रोग में शरीर की रक्त कोशिकाओं का स्तर सामान्य से कम हो जाता है। महिलाओं में एनीमिया की शिकायत अधिक पाई जाती है। लोगों को विशेषकर महिलाओं को एनीमिया के कारण और इससे बचाव के लिए विषय में पूर्ण जानकारी प्रदान की गई। सभी को संतुलित एवं आयरयुक्त आहार लेने के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी गई।
इस अवसर पर रोगियों को एनीमिया की निःशुल्क दवाएं भी वितरित की गईं।

डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि 25 फरवरी को ग्राम पंचायत कृष्णगढ़ के पंचायत घर, ग्राम पंचायत जंगेशु के पंचायत घर मसूलखाना, ग्राम पंचायत सूरजपुर के आंगनबाड़ी केन्द्र सूरजपुर, ग्राम पंचायत हुड़ंग के आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र कण्डा, ग्राम पंचायत गांगुड़ी के आंगनबाड़ी केन्द्र उपरली गांगुड़ी तथा ग्राम पंचायत घड़सी के माता मंदिर घड़सी में एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे। 26 फरवरी को ग्राम पंचायत नारायणी के पंचायत घर, ग्राम पंचायत नाहरी के पंचायत घर, ग्राम पंचायत कालूझिंडा के आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र कालूझिंडा में एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे।

आज आयोजित शिविरों में आयुर्वेदिक चिकित्सक डाॅ. मंजेश शर्मा, डाॅ. प्रियंका सूद, डाॅ. साक्षी, डाॅ. प्रियंका, आयुर्वेद विभाग के कर्मचारी वर्धा, बबली देवी, मधु कुमारी, आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तथा स्थानीय निवासी उपस्थित रहे।
.==========================

सोलन - दिनांक 24.02.2021
कलाकारों ने दी जनमंच तथा मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन 1100 की जानकारी
प्रदेश सरकार ने जन-जन समस्या के उनके घरद्वार पर समाधान के लिए जहां जनमंच आरम्भ किया है वहीं लोग मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन 1100 के माध्यम से अपनी समस्या को सीधे उच्चतम स्तर तक पहुंचा सकते हैं। यह जानकारी आज सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के कलाकारों द्वारा जिला की विभिन्न ग्राम पंचायतों में प्रदान की गई।
प्रदेश सरकार की कल्याणकारी नीतियों व कार्यक्रमों के प्रचार-प्रसार के लिए विशेष प्रचार अभियान के अन्तर्गत हिम सांस्कृतिक दल के कलाकारांे द्वारा सोलन विकास खण्ड की ग्राम पंचायत सेर बनेड़ा तथा मशीवर में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए गए।
अक्षिता कलामंच के कलाकारों ने अभियान के तहत कण्डाघाट विकास खण्ड की ग्राम पंचायत वाकना में गीत-संगीत एवं नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से लोगों को जन हितैषी योजनाओं की जानकारी प्रदान की।
शिव शक्ति कलामंच कुनिहार के कलाकारों ने धर्मपुर विकास खण्ड की ग्राम पंचायत जंगेशू तथा कसौली गढ़खल में लोगों को योजनाओं की विस्तृत जानकारी प्रदान की।
कलाकारों ने लोगों से आग्रह किया कि अपने-अपने क्षेत्र में आयोजित होने वाले जनमंच में बढ़चढ़ कर भाग लें ताकि विभिन्न समस्याओं का त्वरित निपटारा सम्भव हो। लोगों को बताया गया कि प्रदेश में अब तक आयोजित जनमंच में 50 हजार से अधिक शिकायते एवं मांग पत्र प्राप्त हुए हैं। इनमें से 92 प्रतिशत से अधिक का निपटारा किया जा चुका है। लोगों को मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन 1100 की विस्तृत जानकारी प्रदान की गई।
लोगों को बताया गया कि मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन के तहत किस प्रकार शिकायत दर्ज करवाई जा सकती है। इस हेल्पलाइन पर लगभग 01 लाख 50 हजार शिकायतें प्राप्त हुई हैं जिनमें से 95 हजार का समाधान कर दिया गया है।
कलाकारों ने इस अवसर पर उपस्थित जनसमूह को कोविड-19 महामारी से बचाव तथा नशा निवारण के सम्बन्ध में भी जागरूक किया।
इस अवसर पर ग्राम पंचायत सेर बनेड़ा की प्रधान हेमंत कुमारी, उप प्रधान रविकांत, पंचायत सचिव रजनीश, वार्ड सदस्य शांति देवी, कमल, नितिन, हरदीप, ग्राम पंचायत मशीवर के प्रधान नरेंद्र ठाकुर, उप प्रधान नरेश, ग्राम सुधार समिति अध्यक्ष अनिल शर्मा, सचिव कुलदीप ठाकुर, कमलेश ठाकुर, सुमन ठाकुर, कौशल्य देवी, कृष्णा देवी, नरेंद्र कुमार, पंचायत सचिव सत्या देवी, ग्राम पंचायत वाकना के प्रधान हरजेंद्र कुमार, उप प्रधान लीला दत्त, पंचायत सचिव मीरा शर्मा, वार्ड सदस्य नरेश, दलजीत, दिव्या, कमला, पूजा, धर्मेंद्र, अंजली, ग्राम पंचायत जंगेशु की प्रधान व्यासा देवी, उप प्रधान राजेंद्र कुमार, ग्राम पंचायत कसौली गढ़खल के प्रधान राम सिंह, उप प्रधान श्यामलाल, पंचायत सचिव पवन, वार्ड सदस्य अमीता, तनुज, बिंता देवी, तमन्ना, पूजा तथा बड़ी संख्या में स्थानीय निवासी उपस्थित थे।

===============================================

सोलन-दिनांक 24.02.2021
सहारा योजना के तहत प्रदान किए जा रहे 3000 रुपए
ग्राम पंचायत डोली, छियाछी, संघोई, सेवड़ा चण्डी तथा सारमा में दी कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी

वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न गंभीर रोगों से पीड़ित आर्थिक रूप से कमजोर रोगियों को महत्वकांक्षी सहारा योजना के तहत प्रतिमाह 3000 रुपए की सहायता राशि उपलब्ध करवाई जा रही है। यह जानकारी सूचना एवं जनसम्पर्क से सम्बद्ध सप्तक कलामंच के कलाकारों ने आज नालागढ़ विकास खण्ड की ग्राम पंचायत डोली तथा छियाछी में प्रदान की।
कलाकारों ने उपस्थित जनसमूह को बताया कि सहारा योजना के तहत पार्किन्सन, कैंसर, मस्कुलर डिस्ट्राॅफी, अधरंग, किडनी फेलियर तथा तपेदिक जैसे गंभीर रोगों से पीड़ित व्यक्तियांे को सहायता प्रदान की जाती है। राज्य सरकार द्वारा अब तक सहारा योजना के तहत 11057 लाभार्थियों को सहायता राशि के रूप में 11.94 करोड़ रुपए प्रदान किए गए हैं। कलाकारों ने लोगों से आग्रह किया कि योजना के लाभ के लिए जिला के मुख्य चिकित्सा अधिकारी अथवा अपने खण्ड चिकित्सा अधिकारी से सम्पर्क करें।
इस अवसर पर ग्राम वासियों को मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना की विस्तृत जानकारी प्रदान की गई। कलाकारों ने बताया कि योजना के तहत व्यक्तिगत सोलर बाड़बंदी के लिए 80 प्रतिशत तथा किसान समूह आधारित बाड़बंदी के लिए 85 प्रतिशत उपदान प्रदान किया जा रहा है। योजना में कांटेदार व चेन लिंक बाड़बंदी भी सम्मिलत की गई है। इन पर 50 प्रतिशत उपदान उपलब्ध है। कम्पोजिट बाड़बंदी पर 70 प्रतिशत उपदान प्रदान किया जा रहा है।
लोगों को प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना की भी विस्तृत जानकारी प्रदान की गई।
पर्वतीय कलामंच दाड़वा के कलाकारों ने कुनिहार विकास खण्ड की ग्राम पंचायत संघोई तथा सेवड़ा चण्डी तथा पूजा कलामंच, सरयांज, बाड़ीधार के कलाकारों ने कुनिहार विकास खण्ड की ग्राम पंचायत सारमा में लोगों को कल्याणकारी नीतियों की जानकारी प्रदान की।
कलाकारों ने सामाजिक सुरक्षा पैंशन, हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना, आयुष्मान भारत योजना तथा हिमकेयर योजना की विस्तृत जानकारी भी प्रदान की।
कलाकारों ने इस अवसर पर लोगों को कोराना वायरस से बचाव तथा नशे के दुष्प्रभावों से भी अवगत करवाया। लोगांे को बताया गया कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए कोई ढिलाई नहीं बरतनी होगी। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि सार्वजनिक स्थानों पर नाक से ठोडी तक कवर करते हुए मास्क पहनें, सोशल डिस्टेन्सिग नियम का पालन करें।
लोगों को नशे से दूर रहने के लिए प्रेरित किया गया। लोगों को बताया गया कि नशा करने वाला व्यक्ति न केवल स्वयं का नुकसान करता है अपितु इससे परिवार भी पूरी तरह बिखर जाता है।
इस अवसर पर ग्राम पंचायत डोली की प्रधान सीता देवी, पंचायत सचिव महेंद्र कुमार, उप प्रधान रामलाल, वार्ड सदस्य सुखेदव, सुनीता, सोनिया, सिलाई अध्यापिका सुनीता, ग्राम पंचायत छियाछी की प्रधान कांता देवी, उप प्रधान परम जीत, वार्ड सदस्य राम लाल, सुभद्रा, कांता देवी, ग्राम पंचायत सारमा की प्रधान रीना शर्मा, उप प्रधान ललित, वार्ड सदस्य भागवन्ती, सुनीता, र्मिला, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता उमा, ग्राम पंचायत संघोई के प्रधान जगत राम, उप प्रधान टेक राम, वार्ड सदस्य हीरा लाल, सीमा, उर्मिला, महेश, ग्राम पंचायत सेवड़ा चण्डी के प्रधान नेक राम, उप प्रधान तुलसी राम, वार्ड सदस्य विनोद, दया राम, पंचायत सचिव धनपत तथा बड़ी संख्या में स्थानीय निवासी उपस्थित थे।
.============================================================

सोलन-दिनांक 24.02.2021
कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम के तहत आज 54 व्यक्तियांे का टीकाकरण

कोविड-19 से सुरक्षा के दृष्टिगत कार्यान्वित किए जा रहे टीकाकरण अभियान के अन्तर्गत आज सोलन जिला के विभिन्न स्थानों पर फ्रन्ट लाईन वर्करों तथा स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को कोविड-19 से बचाव के लिए टीका लगाया गया।
यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन डाॅ. राजन उप्पल ने दी।
उन्होंने कहा कि जिला में 43 फ्रन्ट लाईन वर्करों तथा 11 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को कोविड-19 का टीका लगाया गया।
डाॅ. राजन उप्पल ने कहा कि सभी लाभार्थियों को टीके के सम्बन्ध में पूर्व में मोबाईल पर सूचना प्रेषित की गई थी। उन्होंने कहा कि 28 दिन के उपरांत दूसरा टीकाकरण होगा।
उन्होंने कहा कि आम जन की सुरक्षा एवं टीकाकरण की व्यापकता के दृष्टिगत सभी को इस दिशा में न केवल अफवाहों से बचना होगा अपितु कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए कोई ढिलाई भी नहीं बरतनी होगी। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि सार्वजनिक स्थानों पर नाक से ठोडी तक कवर करते हुए मास्क पहनें, सोशल डिस्टेन्सिग नियम का पालन करें और बार-बार अपने हाथ साबुन से धोएं या एल्कोहल युक्त सेनिटाईजर से साफ करें।

===================================================
.सोलन-दिनांक 24.02.2021
स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं एवं कर्मियों के लिए कोविड-19 प्रथम डोज का टीका 25 फरवरी तक

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. राजन उप्पल ने जिला के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं एवं कर्मियों से आग्रह किया है कि वे 25 फरवरी, 2021 को कोविड-19 से बचाव के लिए टीकाकरण के तहत प्रथम डोज के रूप में टीका लगवा लें।
डाॅ. उप्पल ने कहा कि 25 फरवरी, 2021 के उपरान्त टीकाकरण के लिए पंजीकृत स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं एवं कर्मियों को प्रथम डोज नहीं दी जाएगी। उन्हांेने कहा कि इस श्रेणी के सभी कर्मी 25 फरवरी को अपना टीकाकरण सुनिश्चित करें। यह टीकाकरण कोविड-19 टीकाकरण के लिए निर्धारित केन्द्रों पर किया जाएगा।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि इसके अतिरिक्त अन्य फ्रन्ट लाईन वर्करों को कोविड-19 टीकाकरण के तहत प्रथम डोज का टीका 06 मार्च 2021 तक लगाया जाएगा।

=====================================

25 व 26 फरवरी को विद्युत आपूर्ति बाधित रहेगी
बिलासपुर 24 फरवरी - सहायक अभियंता विद्युत उपमंडल-2 ई0 विनोद गुप्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि बिजली की तारे बदलने के कारण बेरी दरोला तथा उसके साथ लगते स्थानों पर 25 व 26 फरवरी को 10 बजे से 5 बजे तक विद्युत आपूर्ति बाधित रहेगी।
उन्होंने विद्युत प्रभावित क्षेत्रों के उपभोक्ताओं से सहयोग की अपील की है।
====================================

पटवार वृत जैशला में अंशकालीन कर्मचारी के पद लिए आवेदन आमंत्रित
8 मार्च तक करें आवेदन
मंडी, 24 फरवरी: थुनाग उपमंडल की उप तहसील बागाचनोगी के पटवार वृत जैशला में अंशकालीन कर्मचारी चतुर्थ श्रेणी का एक पद भरने के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। आवेदक संबंधित पटवार वृत,राजस्व महाल,ग्राम पंचायत का स्थाई निवासी होना चाहिए। एसडीएम थुनाग पारस अग्रवाल ने इस बारे जानकारी दते हुए बताया कि उम्मीदवार इसके लिए 8 मार्च, 2021 सायं 5 बजे तक उनके कार्यालय में किसी भी कार्य दिवस में आवेदन जमा करवा जा सकते हैं।
उन्होंने उम्म्ीदवारों से आवेदन निर्धारित प्रपत्र पर भरकर स्वयं सत्यापित प्रमाण पत्र संलग्न कर एक पासपोर्ट साईज फोटो के साथ जमा करवाने का आग्रह किया। आवेदन प्रपत्र उनके कार्यालय के साथ-साथ उप तहसील कार्यालय बागाचनोगी, पटवार कार्यालय व ग्राम पंचायत जैशला के कार्यालय में भी उपलब्ध है ।
उन्होंने बताया कि कि अभ्यर्थी की शैक्षणिक योग्यता दसवीं पास और आयु सीमा पहली जनवरी, 2021 को 18 से 45 वर्ष होनी चाहिए। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों को आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट दी जाएगी।
उन्होंने बताया कि पात्र उम्मीदवारों की सूची 15 मार्च को एसडीएम थुनाग के कार्यालय में प्रकाशित की जाएगी तथा 16 मार्च को प्रातः 10 बजे दस्तावेजों की पड़ताल व अंक तालिका जारी की जाएगी तथा इसके लिए अलग से कॉल लैटर जारी नहीं किए जाएंगे।
उन्होंने आवेदकर्ताओं से 16 मार्च, 2021 को प्रातः 10 बजे एसडीएम थुनाग कार्यालय में मूल दस्तावेजों सहित उपस्थित होने का आग्रह किया।
मैरिट के आधार पर होगा चयन
उन्होंने बताया कि आवेदकों का चयन मैरिट के आधार पर होगा। इसके लिए 100 अंक निर्धारित किए गए हैं, जिनमें दसवीं में प्राप्त अंकों के आधार पर 85 में से अंक दिए जाएंगे । इसके अतिरिक्त पिछड़ा क्षेत्र या ग्राम पंचायत प्रमाण पत्र यदि कोई हो तो उसका 1 अंक, तहसीलदार द्वारा जारी भूमिहीन प्रमाण पत्र यदि हो तो 2 अंक, तहसीलदार द्वारा जारी बेरोजगार प्रमाण पत्र यदि हो तो 2.5 अंक, सम्बन्धित अधिकारी द्वारा यदि जारी किया गया दिव्यांग प्रमाण पत्र हो तो 1 अंक, एनएसएस से कम एक वर्ष, एनसीसी, भारत स्कॉउट एंड गाइड व राष्ट्रीय स्तर की खेल कूद प्रतियोगिता में विजेता मैडल यदि हो तो 1 अंक, बीपीएल परिवार से सम्बन्धित को 2.5 अंक दिए जाएंगे। इसी प्रकार विधवा,तलाकशुदा, निराश्रित , एकल महिला का प्रमाण पत्र, जो सम्बन्धित अधिकारी द्वारा जारी किया गया यदि हो तो 1.5 अंक, एकल पुत्री, अनाथ प्रमाण पत्र जोकि सम्बन्धित अधिकारी द्वारा जारी किया गया हो तो 1 अंक, सरकारी या अर्ध सरकारी संगठन में इस पद से सम्बन्धित 5 वर्ष के अनुभव का प्रमाण पत्र यदि हो तो 2.5 अंक दिए जाएंगे।

===========================================================

सार्वजनिक वितरण समिति की समीक्षा बैठक आयोजित
धर्मशाला, 24 फरवरी- सार्वजनिक वितरण समिति की समीक्षा बैठक आज आयोजित की गई जिसकी अध्यक्षता अतिरिक्त उपायुक्त राहुल कुमार ने की जिसमें सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत माह अक्तूबर, 2020 से जनवरी, 2021 तक योजनावार वितरण एवं उपलब्धता की स्थिति, खाद्यान्नों की गुणवत्ता सुनिश्चित बनाने हेतु नमूनों का एकत्रीकरण, मिट्टी तेल के वितरण बारे इत्यादि बारे चर्चा की गई।
ज़िला में कार्यरत 1076 उचित मूल्य की दुकानों द्वारा माह अक्तुवर, 2020 से माह जनबरी, 2021 तक आवष्यक वस्तुयें जिनमंे गन्दम आटा 12799 डज्, चावल ए0पी0एल0 7552 डज्, आटा वी0पी0एल0 2651 डज्, चावल वी0पी0एल0 1751 डज्ए आटा एन0एफ0एस0 / अन्तोदय 3705 डज्, चावल एन0एफ0एस0/ अन्तोदय 2733 डज्, चीनी 3800 डज्, दाल उडद 1155 डज्, दाल मलका 1102 डज्, दाल मूगं सावूत 246 डज्, दाल चना 1447 डज्, नमक 893 डज्, रिफाइनड तेल 522585 ली0, सरसों तेल 2570765 ली0 राशनकार्ड की पात्रतानुसार 444987 राषन कार्डो पर उपलब्ध करवाई गई हैं तथा जिला कंागड़ा में माह अक्तुवर, 2020 से माह जनबरी, 2021 तक कुल 2790 निरीक्षण किए गए जिनमें 318 मामलों में अनियमितताऐं पाई गई है जिसमें से 289 उचित मूल्यों की दुकानों व थोक केन्द्रों में अनियमितताऐं पाए जाने पर 1,70,8216.00 रुपए प्रतिभूति राषि तथा अन्तरातमक मूल्य के रुप में वसुला गया । इस दौरान 16 घरेलू एल0पी0जी0 सिलेंण्डर भी जब्त कर कार्यवाही अम्ल में लाई जा रही है व 45 दुकानदारों के पास प्रतिबंधित पोलीथीन पाए जाने पर मुबलिग 50,000.00/- रूपये तथा जमाखोरी एंव मुनाफाखोरी व अन्य में कुल 24 मामलों पर 20,000.-जुर्माना वसूल कर सरकारी कोष में जमा करवा दिया गया है।
जिला कांगड़ा में माह अक्तुवर, 2020 से माह जनबरी, 2021 तक विभिन्न खाद्यान्नांे/विनिर्दिश्ट वस्तुओं के 153 नमूनें एकत्रित करने के उपरान्त विष्लेशण हेतू प्रयोगषाला भेजे गए जिनमें से 71 नमूने सरकार द्वारा निर्धारित मानदण्डों के अनुरुप सही पाये गए हैं तथा 82 नमूनों पर विष्लेशण रिपोर्ट अपेक्षित है।
जिला में पांच मिट्टी तेल थोक डीलर कार्यरत हैं । इन पाचों थोक विक्रेताओं द्वारा प्रतिमाह जिला दण्डाधिकारी, महोदय द्वारा निर्धारित रूटचार्ट अनुसार उचित मूल्य की दुकानों पर पंजीकृत राशनकार्डो पर पात्रतानुसार सरकार द्वारा निर्धारित मात्रा एवं दरों पर माह अक्तुवर, 2020 से माह जनबरी, 2021 तक 480 किलो लीटर मिट्टी तेल उचित मूल्य की दुकानों/प्राधिकृत मिट्टी तेल विक्रेताओं के माध्यम से उपभोक्ताओं को वितरित किया गया है ।
जिला में कार्यरत 35 गैस एजैंसियों के पास कुल 529362 स्च्ळ उपभोक्ता पंजीकृत हैं, जिन्हें गैस की आपूर्ति सुचारू रूप से करवाई जा रही है। जिला में कार्यरत सभी गैस एजेन्सियों के लिए स्च्ळ सिलेण्डरों के वितरण हेतु अध्यक्ष महोदय से रूट चार्ट अधिसूचित करवाया गया है तथा सभी गैस एजेन्सियों को निर्धारित रूट चार्ट के अनुसार स्च्ळ सिलेण्डरों का वितरण करने के निर्देष दिए गए हैं। सभी गैस एजेन्सियों को स्च्ळ सिलेण्डरों के वितरण में लगे वाहन पर मापतोल यंत्र, लाऊड-स्पीकर स्थापित करना आवष्यक बनाया गया है, जिस पर विभाग द्वारा कड़ी नजर रखी जा रही है ताकि सिलेण्डरों के वितरण का उदघोशणाओं के माध्यम से उपभोक्ता को पता चल सके ।
जिला में कुल 1076 उचित मूल्य की दुकानों में कुल 444987 राषनकार्ड हैं जिसमें ए0पी0एल0 श्रेणी में 283255, बी0पी0एल0 श्रेणी में 63735 , पी0एच0एच0 श्रेणी में 60255 व अन्तोदय श्रेणी में 37742 राषनकार्ड है।
इसके अतिरिक्त जिला स्तरीय सतर्कता समिति की बैठक में मिड-डे-मील व स्क्ूलों में जारी किए जा रहे राषन व अन्य स्कीमों पर भी चर्चा की गई जिस बारे कोई भी षिकायत प्राप्त नहंी हुई।
इस बैठक में जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक नरेन्द्र धीमान, जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारी संदीप भारद्वाज, एरिया मैनेजर कुलभूषण शर्मा, कॉदेहरा के सुधीर कुमार, पालमपुर ऋषभ गोमा, डा. अनुराधा, रंजना चौधरी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
-0-
.0.