हिसार,22.01.21- - हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष व हरियाणा कान्फैड़ के पूर्व चेयरमैन बजरंग गर्ग ने व्यापारी प्रतिनिधियों कि मीटिंग लेते हुए कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा ब्यान देना कि 6 साल में सरकारी व निजी क्षेत्र में 5 लाख से अधिक युवाओं को रोजगार देने और 48 हजार उद्योग स्थापित होने के साथ-साथ 80 हजार करोड़ रुपए का पूंजी निवेश होने की बात जो कही गई है वह झूठ का पुलिंदा है। जबकि केंद्र व हरियाणा सरकार की गलत नीतियों से हरियाणा में व्यापार व उद्योग धंधे 60 प्रतिशत ठप्प हुए हैं और गांव स्तर पर छोटे छोटे कुटिर लघु उद्योग लगभग 80 प्रतिशत बंद हो चुके हैं। यहां तक की हरियाणा कृषि उपज प्रदेश है कृषि उपज प्रदेश होने के बावजूद भी कृषि संबंधित मिलें। जिसमें ग्वार गम, दाल, राइस मिलें आदि भारी तादाद में हरियाणा में बंद हो चुकी है।

प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि हरियाणा में लगभग व्यापार व उद्योग ठप्प होने से प्रदेश में लाखों लोग बेरोजगार हो गए हैं मगर मुख्यमंत्री मनोहर लाल का 5 लाख युवाओं को रोजगार देने की बात कहना युवाओं को साथ भद्दा मजाक है जबकि एम.ए. व बी.ए. पढ़े-लिखे बच्चे छोटी छोटी नौकरियों के लिए हरियाणा में धक्के खा रहे हैं। श्री गर्ग ने कहा कि हरियाणा सरकार ने प्राइवेट उद्योगों में 75 प्रतिशत नौकरियां हरियाणा के युवाओं को देने की बात कह रही है। जब हरियाणा में नए-नए उद्योग लगेंगे ही नहीं तो युवाओं को रोजगार कहा से मिलेगा।

प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि हरियाणा सरकार को सबसे पहले युवाओं को रोजगार देने के लिए हरियाणा में व्यापार व उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए विशेष योजना बनानी चाहिए। जिसमें उद्योगपतियों को बिजली बिलों में 50 प्रतिशत सब्सिडी, उद्योग लगाने के लिए सस्ती जमीन, गांव स्तर पर छोटे-छोटे उद्योग लगाने के लिए बिना ब्याज लोन देना चाहिए और उसके साथ साथ प्रदूषण, बिजली, जीएसटी आदि विभागों के सरकारी अधिकारी अपने निजी स्वार्थ के लिए उद्योगपति व व्यापारियों को तंग करते हैं। उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए जबकि व्यापारी व उद्योग संबंधित विभाग के अधिकारी सेवा शुल्क लेना तो अपना जन्म सिद्ध अधिकार समझते हैं कोई भी सरकारी अधिकारी बिना सेवा शुल्क लिए कोई काम नहीं करता,आज हरियाणा में पूरी तरह से अफसरशाही हावी है। सरकार को अफसरशाही पर नकेल डालने की जरूरत है। प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि जब तक सरकार नई व्यापार व उद्योग नीति बनाकर व्यापारियों को विशेष पैकेज व बिजली के बिलों में सब्सिडी, उद्योग लगाने के लिए सस्ती जमीन व टैक्सो में सलीकरण नहीं करती तब तक कोई भी पड़ोसी राज्यों व हरियाणा का उद्योगपति प्रदेश में उद्योग लगाने की गलती नहीं करेगा।