धर्मशाला, 26 नवम्बर: एडीसी राहुल कुमार ने 71वें संविधान दिवस के अवसर पर आज उपायुक्त कार्यालय के प्रांगण में उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को भारत के संविधान की शपथ दिलाई।
प्रांगण में उपस्थित सभी ने सामूहिक तौर पर हम, भारत के लोग, भारत को एक(सम्पूर्ण प्रभुत्व-सम्पन्न समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य) बनाने के लिए तथा उसके समस्त नागरिकों को सामाजिक, आर्थिक और राजनैतिक न्याय, विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, धर्म और उपासना की स्वतन्त्रता प्रतिष्ठा और अवसर की समता प्राप्त करने के लिए तथा उन सब में व्यक्ति की गरिमा और (राष्ट्र की एकता और अखंडता) सुनिश्चित करने वाली बंधुता बढ़ाने के लिए दृढ़संकल्प होकर इस संविधान को आत्मार्पित करते हैं की शपथ ली।
एडीसी ने बताया कि भारत संविधान भारत का सर्वोच्च विधान है जो संविधान सभा द्वारा 26 नवम्बर, 1949 को पारित हुआ तथा 26 जनवरी, 1950 से प्रभावी हुआ। यह दिन 26 नवम्बर भारत के संविधान दिवस के रूप में घोषित किया गया जबकि 26 जनवरी का दिन भारत में गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। भारत का संविधान विश्व में सबसे लम्बा लिखित संविधान है।
उन्होंने बताया कि संविधान दिवस मनाने का मकसद नागरिकों को संविधान के प्रति सचेत करना व समाज में संविधान के महत्व का प्रसार करना है।
इस अवसर पर एसी डॉ.मदन कुमार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।