SHIMLA,27.10.20-हिमफैड हिमाचल प्रदेष के अध्यक्ष श्री गणेष दत ने कांग्रेस पार्टी तथा विपक्षी दलों पर आरोप लगाया है कि वे किसान आन्दोलन के नाम पर किसानों के हितों पर कुठाराघात कर रहे हैं । श्री गणेष दत ने कहा कि कांग्रेस पार्टी द्वारा किसानों को रेल पटरियों पर बिठा कर रेल मार्ग बाधित करने से हिमाचल प्रदेष, पंजाब व अन्य प्रदेषों में खाद की कभी सामने आ रही है। क्योंकि खाद के रैग रेल मार्ग से मुम्बई व गुजरात से आते हैं। और खाद के रैक बीच रास्तों में ही रूके पड़े हैं । श्री दत ने आरोप लगाया कि किसान आन्दोलन के नाम पर, कांग्रेस व अन्य राजनैतिक पार्टियां हिमाचल में खाद आने में बाधा खड़ी कर रहे हैं।

हिमफैड के अध्यक्ष ने कहा कि हिमफैड ने सभी खादों के लिये सप्लाई आर्डर समय पर दे रखे हैं लेकिन रेल मार्गों को बाधित करने के कारण ये अभी तक रास्ते में रूके पड़े हैं।

हिमफैड के अध्यक्ष ने कहा कि मुख्य मंत्री श्री जय राम ठाकुर ने हिमफैड को निर्देष दे रखें हैं कि चाहे खाद की सप्लाई हो चाहे डप्ै मण्डी मध्यस्ता योजना के सेब की खरीद व बिक्री में किसी प्रकार की ढील न दी जाय, मुख्यमंत्री के निर्देैषों के अनुसार ही हिमफैड ने अभी तक 17 हज़्ाार मैट्रिक टन सेब की खरीद व बिक्री नीलामी केन्द्रों में कर दी है तथा सेब एकत्रीकरण केन्द्रों व नीलामी केन्द्रों में कोई बाधा नहीं आ रही है ।

हिमफैड अध्यक्ष ने कहा कि हमारी संस्था हिमफैड ने 12.32.16 खाद का आर्डर 29.09.2020 को दिया जा चुका है इसी प्रकार 15.15.15 का 1700 मिट्रिक टन का आर्डर 06.10.2020 को दिया जा चुका है, डव्च् का आर्डर 06.10.2020 को दिया जा चुका है । हमारे पास यूरिया की कोई कमी नहीं है तथा प्रयाप्त स्टाक हमारे गोदामों में उपलब्ध है।

हिमफैड के अध्यक्ष श्री गणेष दत्त ने कांग्रेस पार्टी से कहा है िक वह किसान हितैषी होने का खोखला नाटक करने की जगह, रेल पटरियांे पर बैठे अपने कार्यकर्ताआंे को रेल लाइन बाधित करने से मना करना चाहिये, तथा षीघ्र खाद की आपूर्ति को बाधित न करने को भी कहना चाहिये क्योंकि रेल पटरियांे को बाधित करने से हिमाचल के साथ-साथ पंजाब के किसानों को भी खाद नहीं मिल पा रही है, क्योंकि अब बिजाई का समय आने वाला है इसलिये किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुये स्थिति को सामान्य बनाने में सहयोग करना चाहिये।