सोलन -दिनांक 18.06.2020-कोविड-19 के खतरे के दृष्टिगत आज छठा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पूरे देश व प्रदेश के साथ-साथ सोलन जिला में भी ‘अपने घर पर रहकर, अपने परिवार के साथ योगाभ्यास’ के उद्देश्य के साथ आयोजित किया गया।
जिला के विभिन्न स्थानों पर डिजीटल माध्यम से लोगों ने आयुष मन्त्रालय की वैबसाईट एवं जिला आयुर्वेदिक अधिकारी सोलन के फेसबुक पेज पर लाईव जुड़कर अपने घर पर ही योगाभ्यास किया।
प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा सहकारिता मन्त्री डाॅ. राजीव सैजल ने सभी को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की बधाई देते हुए ‘जीवन में करें योग, रहें निरोग’ के सूत्र को अपनाने का आग्रह किया।
उन्होंने कहा कि भारतवर्ष के अनेकों ऋषि-मुनियों की हजारों वर्षों की तपस्या और शोध के परिणामस्वरूप हमें योग जैसी धरोहर मिली है। शरीर, मन, बुद्धि, आत्मा, आचार, विचार, व्यवहार, स्वभाव और वाणी की शुद्धता केवल योग द्वारा ही सम्भव है। उन्होंने कहा कि इन सब की शुद्धता से ही शारीरिक, मानसिक एवं आध्यात्मिक सुख प्राप्त किया जा सकता है।
डाॅ. सैजल ने कहा कि योग केवल योग दिवस पर मनाने वाला उत्सव नहीं हैं अपितु यह एक अखंड साधना है। इस साधना में हमारा विश्वास और श्रद्धा भी अखंड होना अनिवार्य है। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि अन्तराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर हम सभी नित्य योगाभ्यास का संकल्प लें और एक स्वस्थ एवं सुदृढ़ राष्ट्र की नींव रखने में सहभागी बनें।
इस अवसर पर जिला के उपायुक्त के.सी. चमन ने अपने घर पर ही विभिन्न योग क्रियाओं के माध्यम से जन-जन से स्वस्थ रहने के लिए योग अपनाने का आग्रह किया।
जिला आयुर्वेदिक अस्पताल में इस अवसर पर योग भारती के संयोजक श्रीनिवास मूर्ति ने लोगों को योग द्वारा रोगों से बचाव एवं तनाव रहित जीवन जीने की जानकारी दी।
जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डाॅ. राजेन्द्र शर्मा तथा डाॅ. मंजेश ने योगाभ्यास द्वारा लोगों को प्रसन्नचित एवं स्वस्थ रहने की जानकारी दी।
जिला के सभी उपमण्डलों, विकास खण्डों एवं ग्राम पंचायतोें में लोगों ने घर पर रहकर ही योगभ्यास का लाभ उठाया।